किसने बनाया कांग्रेस का घोषणापत्र राहुल गाँधी ने या हाफिज सईद ने, समझना मुश्किल !

कांग्रेस पार्टी ने जिसके साथ बहुत सारे जातिवादी दल एक गठबंधन में शामिल है, उसने अपना आज 2 अप्रैल को घोषणापत्र जारी किया

कांग्रेस ने घोषणापत्र जारी करने के लिए एक कार्यक्रम किया जिसमे सभी बड़े छोटे कांग्रेस नेता मौजूद थे, और राहुल गाँधी ने कांग्रेस के घोषणापत्र के कुछ मुख्य बिन्दुओं को पढ़ा

कांग्रेस के घोषणापत्र को सुनने और देखने के बाद अब ये समझना मुश्किल हो गया है की कांग्रेस का घोषणापत्र कांग्रेसियों ने ही बनाया है या इसे पाकिस्तान ने बनाया है




क्यूंकि घोषणापत्र में कांग्रेस ने अपनी सरकार बनने के बाद जो वादे किये है उन से सीधे भारत विरोध की झलक मिलती है

कांग्रेस के घोषणापत्र में बिंदु है उसपर जरा गौर कीजिये

1. देशद्रोह कानून खत्म होगा।


इसका लाभ कांग्रेस किसे देना चाहती है ? कन्हैया कुमार, उमर खालिद, कश्मीरी गद्दारों, और देश के तमाम मिशनरी, मदरसा गद्दारों को, कांग्रेस AMU, JNU जैसे अड्डे देश भर में स्थापित करना चाहती है ? देश द्रोह कानून को ख़त्म कर भारत के खिलाफ बोलने की खुली आज़ादी ?
loading...



2. सेना को मिले विशेषाधिकार AFSPA कानून की समीक्षा होगी।


इसका लाभ कांग्रेस किसे देना चाहती है ? कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों को ? इस कानून के तहत सेना और सैनिको को कुछ अधिकार प्राप्त है, कश्मीर कोई शांत इलाका नहीं है, वहां पर 1 सैनिक पर 24 घंटे खतरा रहता है, कांग्रेस सीधे आतंकवादियों, अलगाववादियों को फायदा पहुँचाना चाहती है

3. J&K पर बिना शर्त बातचीत।


किस से बात करना चाहती है कांग्रेस, पाकिस्तान से, या हुर्रियत वालो से, ये दोनों ही भारत के खिलाफ गतिविधियाँ चलाते है, ये डिमांड तो वैसे पाकिस्तान की है, पाकिस्तान रोज भारत से बिना शर्त बातचीत ही चाहता है, पाकिस्तान की डिमांड कांग्रेस के घोषणापत्र में मुख्य बिंदु बना हुआ है




4. कश्मीर में सेना व पैरा मिलिट्री की संख्या में कमी।


इसका लाभ किसे मिलेगा ? सीधे आतंकवादियों को, जो आसानी से आतंक मचाएंगे, घुसबैठ करेंगे, और इस से भारत के सैनिको की जान भी हमेशा खतरे में रहेगी, चारो ओर से हमारे सैनिक खतरों से घिरे हुए है, कांग्रेस किसे लाभ पहुँचाना चाहती है

ये 4 बिंदु ऐसे है जिस से सीधा लाभ आतंकवादियों, पाकिस्तान, गद्दारों, अलगाववादियों को मिलेगा, इस से भारत को क्या लाभ होगा, समझना बहुत ही मुश्किल है की कांग्रेस का घोषणापत्र असल में कांग्रेसियों ने ही बनाया है या पाकिस्तान ने

Post a Comment

0 Comments