आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान का विवादित बयान, ‘मैं पाकिस्तान में ज्यादा रहूंगी खुश !’

soni razdan : मुझे देशद्रोही करार दे दिया जाता है। कभी-कभी मैं सोचती हूं कि हां, मुझे पाकिस्तान ही चले जाना चाहिए। मैं वहां ज्यादा खुश रहूंगी। वहां का खाना भी बहुत अच्छा है। अब लोगों ने ही तो मुझे ट्रोल किया और कहा है कि पाकिस्तान जाओ, इसलिए मैं पाकिस्तान जाऊंगी, मैं अपनी मर्जी से छुट्टियां मनाने पाकिस्तान जाऊंगी।

Alia bhatt mother Soni razdan : बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान अपनी बेबाक टिप्पणी के लिए जानी जातीं हैं। देश के किसी भी मसले पर खुलकर अपनी राय रखतीं हैं। मुद्दा चाहे कश्मीर का हो या फिर धर्म से जुड़ा हो सब पर समान रूप से बात रखती हैं। हाल ही में अपनी आने वाली फिल्म ‘नो फादर्स इन कश्मीर’ के प्रमोशन को लेकर एनबीटी को दिए इंटरव्यू में पाकिस्तान पर राय रखा।




सोनी राजदान ने कहा कि जब भी मैं कुछ बोलतीं हूं ट्रोल का हिस्सा बन जातीं हूं।मुझे देशद्रोही करार दे दिया जाता है।कभी-कभी मैं सोचती हूं कि हां, मुझे पाकिस्तान ही चले जाना चाहिए। मैं वहां ज्यादा खुश रहूंगी। वहां खाना भी बहुत अच्छा है। अब लोगों ने ही तो मुझे ट्रोल किया और कहा है कि पाकिस्तान जाओ, इसलिए मैं पाकिस्तान जाऊंगी। मैं अपनी मर्जी से छुट्टियां मनाने पाकिस्तान जाऊंगी। हालांकि सोनी ने ये भी कहा कि ट्रोल्स के पाकिस्तान भेजने वाली बात से उन्हें ज्यादा फर्क नहीं पड़ता।

कश्मीर को लेकर भी उन्होंने काफी कुछ बोला। कहा कि कश्मीर में अब वह बैलेंस वाली बात नहीं रही है, जैसे पाकिस्तान में बैलेंस नहीं है। भारत में वह बैलेंस कभी भी नहीं खत्म होना चाहिए। देश के मौजूदा हालात पर बात करते हुए सोनी कहा कि मैं भारत के पूरी तरह हिंदू देश बनने के बहुत ज्यादा खिलाफ हूं। मेरे लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है। पाकिस्तान में मिला-जुला कल्चर नहीं है, इसलिए वह बेहतर देश नहीं बन सका। देश की आलोचना करना देश को बेहतर बनाता है। किसी भी देश की ग्रोथ के लिए, जिस तरह उसकी अच्छाई जानना और बात करना जरूरी है, ठीक उसी तरह उस देश की बुराई जानना और बात करना भी जरूरी है।

आलिया भट्ट का नाम इन दिनों रणबीर कपूर के साथ जोड़ा जा रहा है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मुसीबत में आलिया रणबीर नहीं बल्कि अपने दूसरे दोस्त को फोन करती है।
loading...


मालूम हो कि सोनी राजदान की फिल्म ‘नो फादर्स इन कश्मीर’ में उनके अलावा कुलभूषण खरबंदा, अंशुमन झा, अश्विन कुमार और शिवम कुमार भी अहम भूमिका में हैं। फिल्म को अश्विन कुमार ने डायरेक्ट किया है। यह फिल्म कश्मीर में 2 किशोर बच्चों के इर्द-गिर्द घूमती है, जो अपने गुमशुदा पिता की तलाश कर रहे हैं। यह फिल्म 5 अप्रैल को रिलीज़ होगी।

Post a Comment

0 Comments