भारत की आक्रामक नीति देख औकात में आया चीन, विदेश मंत्री ने कहा – हम भारत के साथ चाहते है पार्टनरशिप

आज का भारत पुराने वाले भारत से काफी अलग है, पहले का भारत 26/11 जैसी घटना होने पर पाकिस्तान जैसे देश को सबूत देता था

पर आज का भारत उडी, पुलवामा जैसे हमलों के बाद पाकिस्तान को उसके इलाके में घुसकर मारता है, आज का भारत बदला हुआ भारत है




और ये एक वास्तविक सत्य है की दुनिया में सम्मान सिर्फ मजबूत को ही मिलता है, जो ढुलमुल रहता है जो कमजोर रहता है उसे कभी कोई सम्मान नहीं मिलता

भारत हमेशा से मजबूत देश था पर सेक्युलर सरकारों के दौर में ये ढुलमुल देश बन चूका था, पर नया भारत मजबूत और शसक्त है और भारत की मजबूती का अंदाजा चीन के विदेश मंत्री के आज के बयान से लगाया जा सकता है




चीनी विदेश मंत्री ने आज बीजिंग में कहा की – चीन और भारत को एक दुसरे का पार्टनर होना चाहिए, तभी हम दोनों के सपने पुरे होंगे
loading...


वांग वी ने कहा की – चीन और भारत मिलकर एशिया और दुनिया को बदल सकते है, और ये हमारी इकॉनमी के लिए भी बहुत जरुरी है

मूल रूप से चीन भारत के साथ अपने संबंधों को अब मजबूत कर लेना चाहता है, वो समझ चूका है की भारत के साथ बैर उसके लिए भी ठीक नहीं, और भारत पहले वाला ढुलमुल नहीं बल्कि एक आक्रामक और शसक्त देश बन चूका है

Post a Comment

0 Comments