हमने कांग्रेस की सरकार के समय एंटी सेटेलाइट मिसाइल का प्रेजेंटेशन दिया था पर हमे मना कर दिया गया : वीके सारस्वत, पूर्व DRDO अध्यक्ष

आज DRDO के पूर्व अध्यक्ष वीके सारस्वत ने कांग्रेस पार्टी को बिलकुल एक्सपोज कर दिया, इस पार्टी ने देश की सुरक्षा, देशहित से कितना बड़ा खिलवाड़ किया इसका आज खुलासा हो गया

असल में आज भारत ने मिशन शक्ति को सफलतापूर्वक पूरा किया, भारत अब एंटी सेटेलाइट मिसाइल वाला देश बन गया, अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत ही इस शक्ति का अब मालिक है




और आज DRDO के पूर्व अध्यक्ष वीके सारस्वत ने इसी मुद्दे पर कांग्रेस को पूरी तरह एक्सपोज कर दिया, वीके सारस्वत वही वैज्ञानिक है जिनकी अध्यक्षता में मिशन शक्ति प्रोजेक्ट की शुरुवात हुई थी

चीन भारत पर दबाव बना रहा था और केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, सोनिया गाँधी सरकार को चला रही थी और मनमोहन सिंह नाम मात्र के प्रधानमंत्री थे
loading...


चीन जब भारत पर दबाव बना रहा था तो हमारे वैज्ञानिको ने भी चीन से मुकाबला करने की पूरी तैयारी कर ली थी, पर कांग्रेस ने हमारे वैज्ञानिको के साथ, देश की सुरक्षा के साथ क्या किया वो देखिये

वीके सारस्वत ने आज ANI से बात करते हुए कहा की – हमने एंटी सेटेलाइट मिसाइल बनाने का प्रेजेंटेशन तत्कालीन UPA सरकार को दिया था




वीके सारस्वत ने कहा की हमने कई मीटिंग की थी और नेशनल सिक्यूरिटी एडवाइजर, और सोनिया गाँधी की कमिटी NSC को कई प्रेजेंटेशन दिए, उन्होंने हमारे प्रेजेंटेशन को देखा पर उन्होंने हमे आगे बढ़ने की मंजूरी नहीं दी

वीके सारस्वत ने साफ़ कर दिया की हमारे देश के वैज्ञानिक चीन के मुकाबले को और उसे धुल चटाने को तैयार थे, और इसके लिए उन्होंने काम भी शुरू कर दिया पर सोनिया गाँधी की सरकार रहते काम नहीं करने दिया गया, मोदी सरकार आई तो तेजी से काम हुआ और आज भारत एंटी सेटेलाइट मिसाइल का मालिक बन गया

Post a Comment

0 Comments