बिग ब्रेकिंग – भारत ने 2.35 खरब में रूस के साथ किया तीसरे परमाणु सबमरीन की डील, पाक का स्थाई इलाज

कुछ सालों पहले तक इस देश के रक्षामंत्री थे ऐके अंटोनी, एक बार उन्होंने ये कह दिया था की देश में हथियार खरीदने के लिए पैसा नहीं है, और सैनिको के पास जो है उसी से काम चलाये

वो कांग्रेस का दौर था, पर अब नरेंद्र मोदी का दौर है, आज के संसार में दुनिया का सबसे घातक हथियार है परमाणु बम




और अगर परमाणु बम सबमरीन में हो तो वो हर दुश्मन को सहमा देता है,सबमरीन पानी के अन्दर होता है, वो जल्दी दिखाई नहीं देता और वो परमाणु बम से लैस हो तो फिर दुश्मन की हवा टाइट ही रहती है

नरेंद्र मोदी ने पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान की साँसों को ही थाम दिया था, और उसमे सर्वाधिक योगदान एयर फाॅर्स का नहीं बल्कि भारतीय जल सेना का था
loading...


भारत ने अरब सागर में अर्थात पाकिस्तानी सीमा के पास अपने युद्धपोत और कुछ सबमरीन तैनात कर दिए थे, इस से पाकिस्तान की घिग्घी बांध दी गयी थी, कराची में तो कई दिनों तक रात को 1 भी बल्ब नहीं जलाया गया, पाकिस्तान की आर्थिक राजधानी पूरी तरह ठप्प रही

मोदी सरकार अब पाकिस्तान का एक स्थाई इलाज कर देना चाहती है, ताकि पाकिस्तान पर 24 घंटा एक दबाव बना रहे, अभी भारत के पास 2 परमाणु सब मरीन है, और ये अधिकतर समय में बंगाल की खाड़ी, हिन्द महासागर में ही तैनात रहती है, चीनी अतिक्रमण को रोकने के लिए भारत इनका इस्तेमाल अधिकतर हिन्द महासागर यानि भारत के दक्षिणी इलाके में ही करता है




भारत अब तीसरा परमाणु सबमरीन पाकिस्तान को ध्यान में रखकर, स्थाई तौर पर पाकिस्तान की सीमा पर तैनात करने की योजना बना चूका है, और इसके लिए मोदी सरकार ने अब रूस से अकुला क्लास की सब मरीन की डील की है


भारत ने अकुला क्लास की परमाणु सबमरीन के लिए रूस के साथ 3.3 बिलियन अमरीकी डॉलर यानि लगभग 2.35 ख़रब रुपए की डील की है, कुछ ही समय में भारत को रूस से अब अकुला क्लास की परमाणु सब मरीन मिल जाएगी, जिसे भारत परमानेंट तौर पर पाकिस्तानी सीमा यानि अरब की खाड़ी में तैनात करेगा, इस से पाकिस्तान की 24 घंटे घिग्घी बंधी रहेगी, ये एक तरह से पाकिस्तान का एक स्थाई इलाज होगा
loading...


सरल भाषा में आप इसे समझ लीजिये की ये एक तरह से वो लट्ठ होगा जिसे देखकर भैंस शरीफ बनी रहती है, पाकिस्तान के सर पर भारत का परमाणु पनडुब्बी हमेशा बना रहेगा और ये एक लट्ठ का काम करेगा, जिसके लिए भारत 2.35 खरब की डील रूस के साथ कर चूका है

Post a Comment

0 Comments