दुनिया भर के लुटेरे पहुँच जाते है लन्दन, क्या एलिज़ाबेथ लेती है लुटेरों से बचाने के लिए कमीशन ?

ब्रिटेन भले ही कहने को एक सभ्य और अमीर देश है, विकसित देश है पर असल में मूल रूप से ब्रिटेन का डीएनए लूट ही है







ब्रिटेन एक लुटेरा देश रहा है, और इसने भारत में भी बड़े पैमाने पर लूट मचाई थी, आज भी भारत का मशहूर हीरा कोहिनूर ब्रिटेन के ही पास है





ब्रिटेन ने सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया के तमाम हिस्सों में दशको, सदियों तक लूट मचाई थी, अधिकतर देशों पर अतिक्रमण करके ब्रिटेन ने लूट मचाकर अपने खजाने को भरा था

अगर आज ब्रिटेन से लूट के माल को वापस करने को कहा जाये तो उसका हर नागरिक बिक जायेगा, असल में ये एक लुटेरी डीएनए वाला ही देश है

दुनिया भर के जितने भी आतंकवादी है वो पाकिस्तान चले जाते है चाहे ओसामा बिन लादेन हो या मुल्ला उमर, इसी की तरह दुनिया भर के तमाम आर्थिक लुटेरे ब्रिटेन पहुँच जाते है

भारत के भी तमाम आर्थिक अपराधी ब्रिटेन में है, चाहे वो विजय माल्या हो या नीरव मोदी, सबके सब लन्दन में ही है

इसके अलावा रूस, चीन के भी कई आर्थिक अपराधी लन्दन में है


ऐसे में बड़ा सवाल ये उठता है की दुनिया में तो कई देश है, पर तमाम आर्थिक अपराधी सीधे लन्दन ही क्यों जाते है ? साफ़ होता है की ब्रिटेन, लन्दन को ये तमाम आर्थिक अपराधी अपने लिए सबसे सुरक्षित समझते होंगे
loading...




सारे आतंकियों का अड्डा पाकिस्तान है उसी तरह लगभग सारे आर्थिक अपराधियों का अड्डा लन्दन, ब्रिटेन ही है, अब ब्रिटेन में इतने आर्थिक अपराधी आते है वहां की सरकार को इसकी सारी जानकारी तो होती ही होगी, साफ़ है की वहां की सरकार ही इन आर्थिक अपराधियों की मदद करती है

और लूट डीएनए वाले ब्रिटेन में बिना लेन दें के इन आर्थिक अपराधियों को प्रोटेक्शन मिलता होगा ये तो सोचना भी लगभग पाप है, इस दुनिया में कुछ भी फ्री नहीं है और लूट डीएनए वाले ब्रिटेन में तो बिलकुल भी नहीं

ऐसे में सवाल ये उठता है की क्या ब्रिटेन की महारानी एलिज़ाबेथ दुनिया भर के भगोड़े लुटेरों को प्रोटेक्शन देने के लिए लूट के माल में से मोटा कमीशन लेती है, वैसे भी ये महारानी लूट डीएनए की ही है, और लुटेरों को संरक्षण देने वालो का पर्दाफाश तो होना ही चाहिए

loading...


Post a Comment

0 Comments